गूगल के 10 प्रमुख Algorithm Updates कौन-कौन से है? – हिंदी में जाने।

Google Algorithm Updates

दोस्तों आज मै बात करने जा रहा हूँ गूगल के उन Updates की जिनके अपडेट के करण वेबसाइट का ट्रैफिक Down और High होता रहता है, दोस्तों जो लोग ब्लॉगर है उनके लिए Google Algorithm Updates कोई नई चीज़ नहीं है, लेकिन जिन्होंने ब्लॉग्गिंग की दुनिया में नया कदम रखा है उनके लिए गूगल के इन Updates को जानना बहुत जरुरी है क्युकी आप अपने ब्लॉग को गूगल पर ही रैंक करना चाहते होंगे, दोस्तों गूगल के अलावा भी बहुत से सर्च इंजन है लेकिन गूगल को सबसे ज्यादा Use किया जाता है।

गूगल का नाम सबकी जुबान पर रहता है जैसे कुछ भी सर्च करना हो तो गूगल कर लो” ऐसा सब कहते है, अतः हमे गूगल के Updates के बारे में बहुत अच्छे से पता होना चाहिए, दोस्तों हर वो व्यक्ति जो वेबसाइट बनता है उसे अपनी वेबसाइट को गूगल पर रैंक तो करना ही पड़ता है, इसलिए यदि उसे गूगल के इन उपदटेस के बारे में नहीं पता होगा तो उसे वेबसाइट को रैंक करने में बेहद मुश्किल होगी, इसलिए Google Updates को जानें समझे और इसके फायदों को उठाये, चलिए बिना वक़्त गवाए गूगल के इन प्रमुख Updates को जानते है।



What is Google Algorithm Updates and What Does It Use? (Google एल्गोरिथम अपडेट क्या है और इसका क्या उपयोग है?)

दोस्तों Google को Algorithm Updates करने की जरुरत इसलिए पड़ती है क्युकी बहुत से लोग अपने वेबसाइट पर ट्रैफिक लाने के लिए Black Hat SEO का इस्तेमाल कर रहे थे, जिनसे उनके Websites की रैंक गूगल में जल्दी आ जाता था और जिनके Content अच्छे होते थे और जो Genuine Websites होती थी उनका रैंक उन Black Hat SEO वाले ले लेते थे जिसकी वजह से Users को अच्छा रिजल्ट नहीं मिलता था, इसी करण से गूगल को Algorithm Updates करने की जरुरत पड़ी जो की वो समय समय पर करता रहता है, जिसकी वजह से जिनके Websites पर अच्छा और Genuine Content है उनके Websites की रैंक अब गूगल में जल्दी आ जाती है और Black Hat SEO का इस्तेमाल करने वाले रैंक तो ला लेते है लेकिन Google के Algorithm Updates के कारण उनके Websites की रैंक एक या दो दिन में ही चली जाती है।

दोस्तों वैसे तो google के बहुत से updates है लेकिन मैं इस पोस्ट में सात प्रमुख updates के बारे में बताऊंगा जिनके गूगल समय के साथ अपडेट करता रहता है, तो आइये जानते है 10 Major Google Algorithm Updates in Hindi जिसे जानके आप अपने Websites को गूगल में अच्छा रैंक दिला सकते है।

1) What is Google Panda Update in Hindi (गूगल पांडा अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Panda Update को Google ने 24 February 2011 को Launch किया था। इसका मुख्य काम Low Quality Content वाली Websites को Target करना है, जिस Websites पर Irrelevant Content हो उन Websites को Google अपने Panda Updates से पहचानता है और उन Websites पर Penalty लगा देता है जिसके कारण ऐसी Websites का गूगल में रैंक काम हो जाता है और धीरे धीरे उनका रैंक गायब हो जाता है जिससे उस वेबसाइट के ट्रैफिक में कमी हो जाती है। आज की बात करे तो Low Quality Content वाली Websites का गूगल में रैंक करना Impossible हो गया है क्युकी Google Panda ऐसे Websites पर नज़र रखता है, जिससे उन्हें गूगल में रैंक नहीं मिलती है।

दोस्तों साधारण भाषा में बात करे तो गूगल चाहता है की जो भी यूजर गूगल के माध्यम से किसी वेबसाइट पर जाये तो वहाँ उसे अच्छा और Relevant Content मिले जो उसके लिए Useful हो, Example के लिए मानते है – यदि हम गूगल पर सर्च कर रहे है Google Algorithm Updates और फिर जो भी Website सामने आता है हम उसपे Click कर देते है मगर उसमे Google Algorithm updates के बदले किसी और टॉपिक पर कंटेंट लिखा हो तो क्या आप उसे पढ़ना चाहेंगे नहीं ना, इसलिए गूगल का Panda Update इन चीज़ो को देखता है और जो Website हमे सही जानकारी देता है उन्ही वेबसाइट की रैंक आने देता है, इसके अलावा दोस्तों यदि वेबसाइट पर Duplicate Content और Copy Paste Content है तो भी Google Panda उस वेबसाइट पर Penalty लगा देता है।

Google Panda किन Websites पर Penalty लगता है?

दोस्तों साधारण भाषा में बात करे तो Google Panda उन Websites पर Penalty लगता है जिन Websites पर Duplicate Content, Copy Paste Content, Irrelevant Content और Low Quality Content होता है।

Google Panda Update से अपने Website को कैसे बचाये?

दोस्तों यदि आपको अपने Website को Google Panda Update से बचाना है और Google में अच्छी रैंकिंग लाना है तो आपको अपने Website में से Duplicate और Copy Paste Content को Remove करना होगा और यदि आपके Website पर Low Quality और Irrelevant Content है तो उसे Edit करके उसे सही करना होगा।

2) What is Google Penguin Update in Hindi? (गूगल पेंगुइन अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Penguin Update को Google ने 24 April, 2012 को Launch किया था। यह अपडेट कंटेंट के साथ ही बैकलिंक्स पर ध्यान देती है, गूगल का Penguin Update विशेष रूप से Links के लिए है, इसके साथ ही यह अपडेट Keyword Stuffing और Over Optimization के लिए विशेषकर काम करता है। दोस्तों Website को Rank करने के लिए Blogger बहुत सारे Websites से Back-links ले लेते थे, जिससे उनके वेबसाइट की रैंकिंग बहुत ही जल्दी गूगल के सर्च रिजल्ट में आ जाती थी, अब लिंक की Quality कुछ भी हो उसके बारे में सोचे बिना Bloggers पहले लिंक बनाया करते थे, लेकिन गूगल के Penguin Update के बाद से यह नियम बदल गया है।

अब गूगल लिंक्स की Quality पर बहुत पैनी नज़र रखता है, इसलिए जो लिंक्स की Quality की जगह Quantity पर भरोसा करते है, और सोचते है की ज्यादा बैकलिंक्स बनाने से Website Google के Search Result में Rank करेगा, तो उन्हें यह जरूर जानना चाहिए की वो गलत है, गूगल अब लिंक्स की Quality पर ध्यान देता है ना की Quantity पर।

अतः आप से भी मई यह कहना चाहता हु की अपने ब्लॉग या वेबसाइट को ऐसे Website से लिंक दिलाये जो आपके वेबसाइट के सम्बंधित लेख लिखते है उदहारण के लिए मानते है आपका website Health से संबधित है और आप अपने वेबसाइट को Technical Website से बैकलिंक दिला रहे है तो यह आपकी वेबसाइट के लिए Quantity वाला लिंक हुआ न की Quality वाला, लेकिन Multi Niche Blogs के लिए यह बात मायने नहीं रखती है, Multi Niche Blogs से मतलब जो ब्लॉग बहुत सकते Topics पर लेख लिखती है, ऐसे websites किसी भी वेबसाइट से Back-link ले सकते है।

Google Penguin Update से बचने के लिए कैसे Back-link बनाये?

Google Penguin Update से बचने के लिए आपको Healthy Back-links बनाने होंगे, Healthy Back-links से मेरा मतलब है ऐसे Back-links से जो High DA की Relevant Sites से आता हो, दोस्तों कोशिश करे की आप High DA की Relevant Sites से ही लिंक बनाये इसके साथ ही Do-Follow Back-links बनाने की कोशिश करे, यह आपकी वेबसाइट को Rank Juice पास करेगा, जिससे आपकी वेबसाइट की DR (Domain Rating) High होगी जिससे आपकी Website जल्दी ही Google के SERP में Rank करने लगेंगी, इसके साथ ही आपको Unnatural Back-links बनाना बिलकुल बंद करना होगा और ध्यान रखे की Spam Sites से Back-links बिलकुल भी ना बनाये, Back-Links बनाते समय Website की DA, PA, Spam Score चेक करके ही लिंक बनाये।

Google Penguin Update से Website को Recover कैसे करे?

दोस्तों Google Penguin Update से Website को Recover करने के लिए Disavow Tool का इस्तेमाल करते है, इसके लिए आपको https://www.google.com/webmasters/tools/disavow-links-main पर जाना होगा और उन सभी Links को यहाँ Submit करना होगा उसके बाद Google इन सभी Links को Remove कर देगा, इसके लिए पहले आपको अपने website के उन Links को ढूँढना होगा जिनकी Spam Score बहुत ज्यादा है, और जो Links Spammy, Artificial, or Low-Quality के है आपको उन Links को भी Google Webmasters Tools में Submit करना होगा, 2 से 3 दिन में आपका Website Google Penguin Update से Recover हो जायेगा।

Note: इस Process के फलस्वरूप आपकी वेबसाइट से बहुत से Links Remove हो जायेंगे जिसकी वजह से आपकी Website का DA और DR कम हो जायेगा।



3) What is Google Pirate Update in Hindi (गूगल पायरेट अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Pirate Update को Google ने August 2012 को Launch किया था। Google का Pirate Update उन Websites के लिए है जिन Websites की कॉपीराइट उल्लंघन की रिपोर्ट Google को मिली है। यह Update मुख्य रूप से उन Websites के लिए है जो मुफ्त में आगंतुकों के लिए फिल्में, संगीत, या किताबें उपलब्ध कराती हैं, यदि आपके Websites के पास Copyright Owner’s Permission है तो आपकी Website Pirate Update से बच सकता है और आप आगंतुकों को Copyright Owner’s Permission वाली चीज़े मुहैया करा सकते है, यह अपडेट Torrent Websites को अत्यधिक प्रभवित करती है।

4) What is Google Hummingbird Update in Hindi (गूगल हमिंगबर्ड अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Hummingbird Update को Google ने 22 August 2013 को Launch किया था। इस Update का प्रमुख काम अपने Users को Relevant जानकारी मुहैया करना है, यह मुख्य रूप से Content और Search Query पर केंद्रित Update है। यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण अपडेट है क्युकी इस अपडेट के कारण अब गूगल के सभी Users को Relevant जानकारी मिलेगी, दोस्तों 2013 से पहले के हालत Google पर अलग थे, पहले User Friendly आर्टिकल जल्दी नहीं मिलते थे, जिसके कारण से गूगल के Users को Relevant जानकारी नहीं मिलती थी, लेकिन इस अपडेट के बाद से अब बहुत ही सटीक और मनचाही जानकारी गूगल अपने Users को दिलाता है, दोस्तों Google अपने Search Result को हमेशा ही पहले से ज्यादा बेहतर बनाने में लगा रहता है, और यह अपडेट उसी का एक हिस्सा है।

गूगल हमेशा अपने Users को ऐसी जानकारी उपलब्ध करना चाहता है जिसे पढ़ कर वो संतुष्ट हो सके, इसीलिए यदि आपने कोई ब्लॉग बनाया है तो आप उसमे वो सभी जानकारी दे जो आपके पोस्ट से रिलेटेड हो, कहने का मतलब यह है की यदि आप कोई पोस्ट लिख रहे है तो उसे बहुत ही स्पष्ट तरीके से लिखे अपने Reader को भटकाए नहीं बल्कि कम शब्दो में विस्तृत और सटीक जानकारी देने का प्रयास करे, अपने कंटेंट में हमेशा LSI (Latent Semantic Indexing) Keywords को जगह दे, जिससे आपके वेबसाइट के पाठक को एक ही पोस्ट में ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिल सके और वो आप के वेबसाइट पर ज्यादा समय तक रहे, इससे आपके पाठक और Google दोनों की नज़रो में आपके Website का Trust Rate बढ़ेगा।

Google Hummingbird Update से अपने Website को कैसे बचाये?

दोस्तों साधारण भाषा में कहे तो आप अपने पोस्ट के कंटेंट को जितना अच्छे तरीके से लिखेंगे, और जितने अच्छी तरीके से अपने Users को जानकारी मुहैया कराएँगे, गूगल उतनी ही ज्यादा Value आपके कंटेंट को देगा जिससे आपके Post को एक अच्छी रैंक मिल जायेगा, आप अपने कंटेंट में अपने पढाको के सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश करे, और LSI Keywords का इस्तेमाल करना न भूले, अपने पोस्ट के कंटेंट को Query Base बनाये और अपने Users को साधारण तरीके से सटीक और उच्चतम जानकारी मुहैया कराये।

5) What is Google Pigeon Update in Hindi (गूगल पेंगुइन अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Pigeon Update को Google ने 24 July, 2014 को Launch किया था। यह अपडेट भी Google Algorithm Updates का एक मुख्या हिस्सा है, यह अपडेट मुख्य रूप से Google के Business Listing में आपकी Website Submit है या नहीं यह चेक करता है, यह अपडेट आपकी वेबसाइट पर Penalty तो नहीं लगता है लेकिन अगर आप अपनी Website को Google Pigeon Update के प्रभाव से दूर रखना चाहते है तो अपनी Website को Google Map में Submit अवश्य करवाए जिससे आपका Business बढ़ेगा क्युकी आपके Nearby Audience से आप Contact कर सकते है जिससे निश्चित ही आपका Business बढ़ेगा।

6) What is Google Mobile-Friendly Update in Hindi (गूगल मोबाइल-फ्रेंडली अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Mobile-Friendly Update को Google ने 21 April 2015 को Launch किया था। यह अपडेट मुख्य रूप से उन Websites के लिए है जो Mobile-Friendly नहीं है अर्थात वो Websites जो मोबाइल में ठीक तरह से Open नहीं होता है, उनके Pictures कही और जा रहे है कंटेंट कही और जा रहे है, ऐसे Websites पर Users को जानकारी पढ़ने में समय लगता है साथ ही वो ऐसे Websites का उचित रूप से उपयोग नहीं कर पाते है इसलिए गूगल ने Mobile-Friendly Update को Launch किया, आपका Website Mobile-Friendly है या नहीं इसे जानने के लिए आप अपनी Website का Google’s Mobile-Friendly Test करवा सकते है इसके लिए आप Google की आधिकारिक Website https://search.google.com/test/mobile-friendly पर जाके अपनी Website को Test कर सकते है।

Google के Mobile-Friendly Update से बचने के लिए यह चेक जरूर करे की आपका Website Mobile-Friendly है या नहीं, यदि नहीं है तो इसे शीघ्र ही Mobile-Friendly बनाये।

7) What is Google RankBrain Update in Hindi (गूगल रैंकब्रेन अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google RankBrain Update को Google ने 26 October 2015 को Launch किया था। यह अपडेट Google Hummingbird Update का ही एक हिस्सा है इसका मुख्य काम भी Search Query पर केंद्रित है, यह अपडेट गूगल के Users को सही और सटीक जानकारी मुहैया कराने के लिए है, इस अपडेट रैंकिंग Down और UP के लिए जिम्मेदार है इसलिए आपको पता होना चाहिए की Google RankBrain Update से अपनी Website को कैसे बचाये?

तो इसके लिए आपको अपने Website पर विस्तृत और सम्पूर्ण लेख के साथ ही ज्ञानवर्धक बातो के साथ Users को जानकारी मुहैया कराना चाहिए जो की बिलकुल भी Boring ना हो, जिससे आपके Website Content में आप अधिक से अधिक LSI Keywords का इस्तेमाल भी कर पाएंगे,vइससे आपके वेबसाइट का Bounce Rate भी कम होगा क्युकी विस्तृत जानकारी के वजह से अब उसेर्स अधिक समय तक आपके Website पर रहेंगे और गूगल के नजरो में आपकी Website का Trust बढ़ेगा जिससे निश्चित ही आपकी वेबसाइट का Ranking UP होगा।

8) What is Google Possum Update in Hindi (गूगल पोसम अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Possum Update को Google ने 1st September 2016 को Launch किया था। यह Update मुख्य रूप से उन Business Websites के लिए है जिन्होंने अपने Business Websites को Physical Location अर्थात Google Map में Local Listing नहीं की है क्युकी इस Update के बाद आपकी Business को घटा हो सकता है यदि आपने अपने Website का Local Listing नहीं किया है, यह Update बहुत ही उपयोगी अपडेट है क्युकी यह Users को आपके Business के बारे में बताएंगे यदि वो आपके Company के Near है तो, यदि User किसी और Product या Company Search करता है तो उसको दूसरे Companies के साथ ही आपका Business Location भी Show होगा, यदि वो दूसरे Companies से संतुष्ट नहीं है तो संभव है की वो आपके Business Location को Visit करेगा जिससे आपके Business में वृद्धि होगी।

इस Update का Ranking में बहुत ज्यादा फायदा है क्यों इस update के कारण आपकी Website सर्च लिस्ट में सबसे ऊपर होगी, उदाहरण के लिए मान लेते है आपने गूगल पे गुलाब जामुन Search किया है तो आपको तुरंत Google Search Result में उन Websites के परिणाम सबसे ऊपर मिलेंगे जो आपके सबसे नजदीक होंगे, इससे आप उन Websites पर Visit करेंगे और इस प्रकार से उस Shop को एक आर्डर मिल जायेगा, इससे आपको और गुलाब जामुन के Shop दोनों को फायदा मिल सकेगा।

Google Possum Update से कैसे सुरक्षित रहें?

आप Geo Location को Set करे और अपने Website का Google Map में Local Listing अवश्य कराये, इससे Google Possum Update से आपका Website सुरक्षित रहेगा और आपके Business को फायदा मिलेगा।

9) What is Google Fred Update in Hindi (गूगल फ्रेड अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Fred Update को Google ने 8 March 2017 को Launch किया था। Google का Fred Update उन Websites के लिए है जो आवश्यकता से अधिक विज्ञापन और Affiliates ads का इस्तेमाल करते है इसके साथ ही जिन Websites पर एक ही Keyword को अधिक बार उपयोग किया गया है और जिन Websites पर अत्यधिक links का प्रयोग किया गया है जो Content के अनुसार नहीं है ऐसी Websites को Google का Fred Update प्रभावित करेगा, जब तक आपकी Website का मकसद Ads लगा के पैसे कामना है तब तक आपका Website इस Update से बच नहीं सकता, इसलिए अपने Users को भटकाए नहीं और उन्हें उचित जानकारी मुहैया कराये जिसे पढ़कर और जानकर वो उसका उपयोग कर सके, भूलिए मत गूगल को सब पता होता है।

Google के Fred Update से अपनी Website को कैसे बचाये?

दोस्तों यह बहुत ही महत्वपूर्ण अपडेट है क्युकी इस अपडेट के कारण बहुत ही Websites का Ranking Down हो जाता है या वो Rank कर ही नहीं पाते इसलिए यदि आप अपनी Website को Google के Fred अपडेट से बचाना चाहते है तो निचे दिए गए कुछ Steps का पालन करें।

  1. अपनी Website पर अत्यधिक Ads , पाॅपअप इत्यादि का उपयोग ना करें।
  2. एक ही Keywords का अत्यधिक उपयोग न करें उन्ही Keywords का उपयोग करें जो कंटेंट के अनुसार हो, अपने Users को भटकाए नहीं इससे आपके Users को Problem होगी और गूगल यह बिलकुल भी नहीं चाहता है की किसी भी User को दिक्कत हो, इसीलिए वह आयेदिन अपने Algorithms में अपडेट करता रहता है।
  3. अनावश्यक Image और Links का उपयोग ना करे।

10) What is Google Core Update in Hindi (गूगल कोर अपडेट क्या है?)

दोस्तों Google Core Update को Google ने August 2018 को Launch किया था। इस Update के कारण बहुत से Blogs और Websites की रैंकिंग में एक बहुत बड़ा अंतर आया था, यह अपडेट मुख्य रूप से Search Relevancy के लिए है इस अपडेट का मुख्य काम Users को सटीक जानकारी मुहैया कराना है, गूगल ने पूरी तरह से इस update के बारे में नहीं बताया है लेकिन कुछ SEO Experts के अनुसार यह एक Normal Update है जो Google के Search Result को और अधिक बेहतर बनाने के लिए किया गया है।



यकीन मानिये वो दिन दूर नहीं जिस दिन आपकी वेबसाइट का पोस्ट भी गूगल में एक अच्छे Rank पर खड़ा होगा, जरूरत है तो बस लगे रहने की, और कभी भी निराश न होने की, पोस्ट अच्छी लगे तो अपने दोस्तों में इसे Share अवश्य करे, और यदि आपके मन में Google Algorithm Updates से सम्बंधित कोई भी Question है तो बेजिझक अपना Question Comment Box में पूछे, मैं जल्द ही आपके सभी Questions का Answer देने की कोशिश करूंगा।

जय हिन्द । जय भारत

गूगल के 10 प्रमुख Algorithm Updates कौन-कौन से है? – हिंदी में जाने।

Leave a Reply

Scroll to top
%d bloggers like this: