What is SEO in Hindi | SEO क्या है और यह इतना जरुरी क्यों है? – हिंदी में जाने

SEO in Hindi

हैलो दोस्तों, आज इस पोस्ट की मदद से आप SEO के बारे में वो सभी जानकारी ले पाएंगे, जो आप जानना चाहते है, तो चलिए आज जानते है “What is SEO in Hindi”. दोस्तों ज्यादातर लोगो के मन में SEO से जुड़े बहुत से सवाल उठते है जैसे की “SEO क्या है और ये क्यों करते है, इसे करने से क्या फायदा मिलता है, क्या SEO के बिना भी WEBSITE को Rank करा सकते है?” दोस्तों इन सभी सवालों के जवाब मैं एक एक करके आपको बताऊंगा और SEO की पूरी जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से आप तक पहुंचाने की कोशिश करूंगा. दोस्तों SEO का फील्ड बहुत बड़ा है, इसके अंदर बहुत सी जानकारिया है, जिसे आपको अवश्य जानना और समझना चाहिए। जो लोग SEO फील्ड में नए है और जो Experience हैं उन दोनों के लिए ये पोस्ट बहुत लाभदायक सिद्ध होगा।

दोस्तों SEO का इस्तेमाल हम वेबसाइट बनाने के बाद उसके पोस्ट्स को सर्च इंजन में रैंक करने के लिए करते है, अतः यदि आपने अपनी वेबसाइट बनाई है और उसे सर्च इंजन में रैंक करना चाहते है तो आपको इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ना चाहिए।

SEO क्या है? | What is SEO in Hindi?

SEO (Search Engine Optimization) एक टेक्नीक है। जिसे करके आप सर्च इंजन (Google, Yahoo, Bing, Etc.) में Genuine और Free का ट्राफिक ला सकते है। दोस्तो Organic Traffic लाने के लिए SEO बहुत जरूरी है। ये आपके वेबसाइट या ब्लॉग को सर्च इंजन में Top Rank दिला सकता है, जो बिल्कुल फ्री होगा। क्युकी यदि आपके वेबसाइट का रैंक Top Position या सरल भाषा में कहे तो सर्च इंजन के First Page पर रहे तो ज्यादा से ज़्यादा Traffic आपके वेबसाइट या ब्लॉग पर जनरेट होगा और आप अपने वेबसाइट पर Ads लगा के बहुत सारे पैसे कमा सकते है। हमारे भारत मे कई सारे ऐसे ब्लॉगर है जो अपने वेबसाइट की सहायता से लाखो रुपया महीना कमाते है। यदि आप भी उन्हीं की तरह अपने वेबसाइट से लाखो रुपया महीना कामना चाहते है, मैं आपको “SEO in Hindi” पोस्ट के माध्यम से बताऊंगा की SEO कैसे करे।

क्या आपके ब्लॉग या वेबसाइट की रैंकिंग नहीं आ रही?, क्या आप भी SEO की टेक्निक सीखना चाहते है? क्या आप भी जानना चाहते है की SEO (Search Engine Optimization) क्या है? और SEO की सहायता से रैंकिंग कैसे लाये? जी है तो आप बिलकुल सही जगह है, इन सभी सवालों के जवाब आपको इस पोस्ट में मिल जाएगा, इसे पूरा पढियेगा, क्योंकि पूरी जानकारी जाने बिना आप सही ठंग से SEO नहीं कर सकते है। मैं गारंटी देता हूँ कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप SEO के मास्टर बन जाएंगे।

SEO वेबसाइट के लिए इतना जरूरी क्यों है?

दोस्तों जो भी वेबसाइट बनता है वो ये जरूर चाहता है की उसकी वेबसाइट पर बहुत सारे लोग आये और उसके पोस्ट्स को पढ़े, लेकिन ये इतना आसान नहीं होता है, अपनी वेबसाइट पर लोगो को लाना एक मुश्किल काम है जो एक या दो दिन में नहीं होता, यदि आप SEO को नहीं जानते तो आप अपने वेबसाइट पर Traffic नहीं ला सकते है, और फिर आपके वेबसाइट बनाने का क्या फायदा यदि लोग ही न आये, इसलिए हम SEO की सहायता लेते है अपने वेबसाइट पर बहुत सारा ट्रैफिक लाने के लिए।

दोस्तों आसान भाषा में कहे तो SEO हम इसलिए करते है क्युकी हमारा वेबसाइट सर्च इंजन में रैंक हो सके जिससे ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक हमारे वेबसाइट पर आये, दोस्तों यदि हम SEO नहीं करेंगे तो हमारे वेबसाइट सर्च इंजन पर नहीं दिखेगा और यदि कोई USER हमारे वेबसाइट के किसी पोस्ट से RELATED कुछ सर्च करता है तो उसे हमारे कोई भी पोस्ट नहीं दिखेगा, इसीलिए SEO बहुत जरुरी है हमारे वेबसाइट को रैंक करने के लिए।

SEO कितने के प्रकार के होते है? और SEO कैसे करे?

दोस्तों SEO करने के 2 तरीके है जिससे आप अपने वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करा सकते है, इन दो तरीको में पहला ऑन पेज SEO है और दूसरा ऑफ़ पेज SEO है, अगर आप इन दोनों तरीको को जान गए तो सर्च इंजन में किसी भी वेबसाइट की रैंक करना आपके दाये हाथ का काम होगा, तो चलिए बिना देर किये जानते है की इन दो तरीको से कैसे हम अपने वेबसाइट की रैंक कराये?

On Page SEO (ऑन पेज SEO) क्या है? | SEO in Hindi

दोस्तो अब सबसे पहले जानते है की ऑन पेज SEO क्या है? ऑन पेज SEO हम अपने वेबसाइट के Internally Part में करते है, On Page SEO के लिए जरुरी है की आपके पास उस वेबसाइट के एडमिन पेज का Access होना चाहिए तभी आप On Page SEO कर सकते है On Page में हम अपने वेबसाइट के Content को Update करते है, Headings को सुधरते है, और बहुत से तरीको को Use करके अपने वेबसाइट के पोस्ट को पूरी तरह से Optimize करते है, चलिए अब जानते है On PAGE SEO से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बातें जिनका Use करके आप अपने वेबसाइट को गूगल या किसी और सर्च इंजन में रैंक करा सकते है। निचे मैं आपको वो सभी तरीके बताने जा रहा हूँ जो On Page SEO में करते है।

1 – Headings (हेडिंग्स)

अब सबसे पहले बात करते है Headings की, SEO में Headings बहुत जरुरी होता है, जैसे हम Essay को लिखते है तो उसमे Headings का इस्तेमाल अवस्य करते है ताकि वो सही ठंग से अध्यापक को समझ आ जाये ठीक उसी प्रकार से जब आप अपने पोस्ट को भी Headings का इस्तेमाल करके बनाएंगे तो वो भी सर्च इंजन को बहुत पसंद आएगा, और साथ ही साथ आपके पाठको को जो आपका पोस्ट पढ़ेंगे, Content के अनुसार आप Heading 1, Heading 2, Heading 3 और बाकि के Headings का इस्तेमाल कर सकते है। आप Heading 2 में अपने Focus KEYWORD का इस्तेमाल कर सकते है जो आपके पोस्ट के लिए और ज्यादा फायदेमंद रहेगा।

2 – Website Speed (वेबसाइट स्पीड)

SEO में Website Speed का विशेष महत्व है, क्युकी यदि आपके वेबसाइट की स्पीड अच्छी नहीं होगी तो आपके पाठक (Visitors)Website को छोड़कर किसी और Website में चले जायेंगे क्युकी आप वेबसाइट Open होने में समय लगा रहा है तो वो क्यों आपके वेबसाइट को Open करने में Time Waste करे, आप खुद ही सोचिये यदि आप गूगल पर कोई keyword सर्च करते है और दिए गए SERP (Search Engine Results Page) में से किसी वेबसाइट को ओपन करते है और वो लेट ओपन होता है तो आप तुरंत उसे छोड़ कर दूसरे वेबसाइट को ओपन करेंगे, ठीक उसी प्रकार से दूसरे भी करते है इसलिए आपके वेबसाइट की लोडिंग स्पीड अच्छी होनी चाहिए।

यदि आपके वेबसाइट की पेज स्पीड 4 – 5 सेकंड है तो ठीक है क्युकी Visitors वेबसाइट ओपन करने में इससे ज्यादा टाइम नहीं देते है, इसलिए यदि इससे ज्यादा टाइम वेबसाइट ओपन करने में लगता है तो निचे दिए गए कुछ टिप्स का इस्तेमाल करके अपने वेबसाइट की पेज स्पीड को तेज़ करे।

जानिए कैसे Website की लोडिंग स्पीड तेज़ (Fast) करते है?

  1. सबसे पहले आप अपने वेबसाइट में सिंपल थीम का प्रयोग करे क्युकी सिंपल थीम (Simple Theme) से आपके वेबसाइट पर ज्यादा लोड नहीं होगा।
  2. ज्यादा Plugins का USE न करे क्युकी ज्यादा Plugins का USE करने से वेबसाइट की RAM भी काम हो जाती है ठीक उसी प्रकार से जैसे यदि आप अपने मोबाइल में ज्यादा Apps इनस्टॉल कर लेंगे तो मोबाइल स्लो हो जाता है, ठीक उसी प्रकार से वेबसाइट भी होस्टिंग से चलती है और होस्टिंग वेबसाइट को RAM उपलब्ध करता है इसलिए आप उन्हीं Plugins का USE करे जिनकी आपके वेबसाइट की जरुरत है।
  3. ज्यादा MB वाली इमेज का प्रयोग न करे, Image का साइज कम से कम रखे ताकि वेबसाइट की स्पीड अच्छी हो सके।
  4. W3 Total Cache और WP Super Cache Plugins का Use करे, इन Plugins से वेबसाइट की Cache को डिलीट किया जा सकता है जो आपके वेबसाइट के स्पीड बढ़ने में बेहद महत्वतपूर्ण होते है।
3 – URL (यूआरएल)

अपने पोस्ट का यूआरएल (URL – Uniform Resource Locator) जितना सिंपल और छोटा हो सके उतना छोटा रखे और अपने URL में Keyword का प्रयोग अवस्य करे जिस KEYWORD पर आप फोकस करना चाहते है।



Example के लिए निचे देखे ↓

जैसे फेमस हिंदी वेबसाइट के इस पोस्ट का URL है – https://famoushindi.in/seo-in-hindi/इसमें मैंनेseo-in-hindi को कीवर्ड के रूप में अपने URL में इस्तेमाल किया है आप भी ऐसे ही यूआरएल का प्रयोग अपने पोस्ट के लिए कर सकते है।

4 – Title Tag (टाइटल टैग)

अपने Website का CTR को बढ़ने और अपने वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा Visitors लाने के लिए अपने वेबसाइट का टाइटल टैग बहुत अच्छा बनाये. इसके लिए आप अपने वेबसाइट का टाइटल टैग 65 Words से ज्यादा का ना बनाये क्युकी Google Searches में 65 Words से ज्यादा का Title Tag Show नहीं होता, आपका Title Tag जितना अट्रैक्टिव होगा visitors को वो उतना ही पसंद आएगा इसलिए अपने Title Tag को जितना हो सके अट्रैक्टिव बनाये जो आपके पोस्ट के अनुशार हो, क्युकी यही आपके पोस्ट की सर्च इंजन में Main हैडिंग होती है जिसे पढ़ के लोग आपके वेबसाइट में Enter करते है तो इसे अच्छा अवश्य बनाये।

5 – Meta Description

दोस्तों Meta Description में बहुत जरुरी होता है SEO के लिए क्युकी इसका प्रयोग करके हम Google या किसी और Seach Engine को बताते है की हमारा पोस्ट किस टॉपिक पर बना है, जैसे टेक्निकल थिंग्स पर या स्पोर्ट्स पर या और किसी टॉपिक पर, Meta Description 155 Words का बनाये क्युकी इससे ज्यादा का Description Seach Engine में Show नहीं होगा।

6 – Image Alt Tag

दोस्तों वेबसाइट के जिस पोस्ट को आप Seach Engine में रैंक करना चाहते है उसे अच्छे तरह से Optimize किये बिना आप रैंक नहीं करा सकते, Image का Role भी एक Optimization का है यदि आप अपने पोस्ट के Image में Alt Tag का प्रयोग करते है तो आपका पोस्ट और अच्छे से Optimize हो पायेगा और Seach Engine में आपके पोस्ट की वैल्यू बढ़ेगी, इसीलिए इमेज में Alt Tag लगाना ना भूले

7 – Link (लिंक)

दोस्तों किसी भी पोस्ट में हम दो तरह के Link का प्रयो करते है उसमे पहला है Interanal Link और दूसरा है External Link इन दोनों का प्रयोग हमे अपने Web Page में करना चाहिए, अपने पोस्ट में काम से काम एक External Link का प्रयोग Nofollow Tag के साथ अवश्य करे, और Interanal Link का प्रयोग अपने हिसाब से करे जहाँ आपको Interanal Link देना है वो वह उसे करे और ध्यान रखे लिंक हमेशा “Hypertext” पर ही दे, आसान सब्दो में कहे तो Interanal Link को हमेशा Keyword पर ही लगाए जिससे आप जिस पेज का लिंक दे रहे है उसे भी अच्छा Rank Juice मिले।

8 – Content (कंटेंट)

Contant (कंटेंट) आपके पोस्ट के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, क्युकी बिना कंटेंट पोस्ट अधूरा है कंटेंट को SEO का किंग भी कहा जाता है इसीलिए कंटेंट आपका बहुत अच्छा होना चाहिए जिससे Visitors को कुछ भी पढ़ने और समझने में दिक्कत ना हो, कंटेंट में सिंपल भाषा का इस्तेमाल करे, एक पोस्ट के लिए आप कम से कम 300 Words का इस्तेमाल करे, अपने कंटेंट को अच्छा दिखने के लिए इसमें Imogi का भी इस्तेमाल कर सकते है।

आप जितना अच्छा कंटेंट लिखेंगे उतनी अच्छी आपके वेबसाइट की Value होगी, एक बात ध्यान रखे की किसी और वेबसाइट का कंटेंट कॉपी ना करे और ना ही फेक कंटेंट लिखे, आप चाहे तो पैसे खर्च करके किसी और से कंटेंट लिखवा भी सकते है, Freelancers से आप अपना कंटेंट लिखवा सकते है, दोस्तों आपका कंटेंट Plagiarism Free होना चाहिए जिससे सर्च इंजन इसे ज्यादा पसंद करें, क्युकी यदि आपको अपने पोस्ट को सर्च इंजन में रैंक करना है तो आपका Content बहुत Unique होना चाहिए।

9 – Keyword (कीवर्ड)

Keyword (कीवर्ड) SEO का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है, आप सभी पोस्ट के लिए अलग – अलग कीवर्ड बनाये, आपको जानकारी देना चाहूंगा की एक पोस्ट के एक से ज्यादा कीवर्ड होते है, आप अपने पोस्ट के कीवर्ड को SEO की सहायता से चुन सकते है, अपने जिस Keyword को चुना है उसे अपने पोस्ट के कंटेंट में इस्तेमाल करे (2 % Max.), जैसे आपको अपने Keyword का इस्तेमाल Headings में, SEO Title में, कंटेंट में, पहले पैराग्राफ में, Image Alt Tag में, Meta Description में और अपने URL में करना चाहीये, जिससे कोई जैसे ही इस Post को Seach Engine में Search करे आपका पोस्ट टॉप पर आये।

10 – User Friendly Website

आप अपने वेबसाइट को User Friendly बनाये, कुछ लोग ऐसी वेबसाइट बनाते है जिसका न फॉण्ट सही होता है और ना ही वो मोबाइल वाले यूजर को सही से दीखता है, तो ऐसी गलती आप ना करे, अपने वेबसाइट को अच्छा लुक दे जो Visitors को पसंद आये, वेबसाइट बनाने के बाद ये जरूर चेक करे की आपका Webpages Mobile Version में भी Show हो रहे है या नहीं यदि नहीं हो रहे तो आप अपने वेबसाइट के Theme की सेटिंग Change कीजिये और इसे मोबाइल फ्रेंडली भी बनाइये और अपने वेबसाइट में Menu, Sub Menu और अपने पोस्ट में Category और Tag का Use करे।

11 – Sitemap

दोस्तों Sitemap एक प्रकार का Website Map होता है जिसे सर्च इंजन का Spider या Crowler पढता है और उसे स्कैन करता है जिससे उसे आपके Website का स्ट्रक्चर पता चल जाता है, यदि आपने अपने वेबसाइट का Sitemap बनाया है तो Crowler जल्दी से आपके सभी Web Pages तक पहुंच जायेगा और उन्हें Easily Crowl कर पायेगा, यदि Sitemap Submit नहीं है तो सर्च इंजन का Crowler आपके वेबसाइट के सभी Web Pages तक नहीं पहुंच पायेगा जिससे आपके बहुत से नए पोस्ट सर्च इंजन में रैंक नहीं कर पाएंगे क्युकी बिना Sitemap के Spider को Crowl करने में टाइम लगता है। Sitemap मुख्यतः हम दो प्रकार के प्रओग करते है एक XML Sitemap (Seach Engine के लिए) और दूसरा HTML Sitemap (Users के लिए), आप XML Sitemap का Pluggin अपने वेबसाइट में Install करके भी Sitemap लगा सकते है।

Off Page SEO (ऑफ पेज SEO) क्या है? | SEO in Hindi

दोस्तों अब जानते है की ऑफ पेज SEO क्या है, Off Page SEO में वेबसाइट के बाहर का काम होता है, ऑफ पेज SEO का सारा काम आपके वेबसाइट का दूसरे Websites पर प्रमोशन करना होता है, ऑफ पेज SEO में हम अपने वेबसाइट को Links दूसरे वेबसाइट पर Submit करते है और उनसे Backlinks लेते है, Backlink का मतलब उस लिंक से है जो हमे दूसरे वेबसाइट से प्रोवाइड होता है, Off Page SEO में विशेषतः हम Backlinks ही बनाते है जिससे हमारे वेबसाइट की DA और PA बढ़ता है जो रैंक लाने के लिए बहुत जरुरी होता है, दोस्तों हमारे वेबसाइट को Support की जरुरत होती है जो हमे दूसरे वेब्सीटेस से लेना पड़ता है।

दोस्तों चलिए अब जानते है की कैसे वेबसाइट का Backlinks दिया जाये जिससे वेबसाइट मजबूत हो, और गूगल या किसी और Seach Engine में वेबसाइट (Website) के पोस्ट की अच्छी रैंक आये निचे कुछ इम्पोर्टेन्ट ट्रिक्स बताने जा रहा हूँ, इन्हे पढ़िए और जानिए की कैसे वेबसाइट को बैकलिंग दे।

“दोस्तों जितना हो सके Do Follow With HIGH DA PA की Websites पर लिंक बनाये तभी आपके Websites को रैंक जूस पास होगा और आपके वेबसाइट का Performance सर्च इंजन में बढ़ सकेगा”

1 – Search Engine Submission (सर्च इंजन सबमिशन)

Off-Page SEO में सबसे पहले हम अपने वेबसाइट को Seach Engine (Google, Yahoo, Bing, Ask.com, Baidu, Etc.) में Submit में सबमिट करते है, दोस्तों यदि आपकी वेबसाइट नई है तो Seach Engine इसे जल्दी से Crowl नहीं करेगा, लेकिन यदि आप Seach Engine में वेबसाइट का लिंक Submit कर देते है तो आपका वेबसाइट बहुत जल्दी से Crowl हो जायेगा और Seach Engine Result Page (SERP) में Show होने लगेगा, तो अपने वेबसाइट को Seach Engine में सबमिट करना न भूले

2 – Bookmarking (बुकमार्किंग)

Bookmarking Websites पर जाके अपने Website का Bookmarking करे क्युकी ऐसे Websites की Caching Frequency ज्यादा अच्छी होती है, यदि आप इन वेब्सीटेस पर अपने वेबसाइट का बैकलिंक बनाते है तो सर्च इंजन में आपका वेबसाइट के पेजेज की रैंकिंग जल्दी आ जाएगी, याद रखे एक दिन में 17 से ज्यादा bookmarking ना करे

3 – Directory Submission (डायरेक्टरी सबमिशन)

डायरेक्टरी सबमिशन का प्रयोग हम मजबूत बैकलिंग्स (Strong Backlings) बनाने के लिए करते है, HIGH DA PA की डायरेक्टरी वेबसाइट से अपने वेबसाइट के पेजेज का लिंक दे और सर्च इंजन में अपने वेबसाइट की वैल्यू बढ़ाये।

4 – Classified Submission (क्लासिफाइड सबमिशन)

क्लासिफाइड सबमिशन का मतलब होता है वेबसाइट को प्रमोट करना, OLX, Quikr जैसे कुछ बढ़िया वेबसाइट पर जाके आप अपने वेबसाइट का फ्री में क्लासिफाइड सबमिशन करा सकते है।

5 – Blog Commenting (ब्लॉग कमेंटिंग)

कुछ Famous वेब्सीटेस जिनकी रैंक अच्छी हो और जिनकी DA PA HIGH हो ऐसे वेब्सीटेस पर जाके कमेंट करे और अपने वेबसाइट का यूआरएल (URL) सबमिट करे, जिससे आपकी वेबसाइट पर Referral (रेफेरल) ट्रैफिक मिलेगा और इसके साथ साथ बैकलिंग भी मिलेगा जितना हो सके Do Follow वेब्सीटेस पर कमेंट करे।

6 – Guest Post (गेस्ट पोस्ट)

दोस्तों Guest Post हम दुसरो वेब्सीटेस पर सबमिट करते है जो Guest Post सबमिशन मांगते है ऐसे वेबसाइट पर जेक हम अपने वेबसाइट का लिंक सबमिट करते है जिससे हमारे वेबसाइट को बहुत अच्छा लिंक जूस पास होता है क्युकी Guest Post से हमे Do Follow लिंक मिलता है, दोस्तों Guest Post सबमिशन Free और Paid दोनों होते है, आपको अपने वेबसाइट के पेज से रिलेटेड कंटेंट Guest Post वाले वेबसाइट को देना होता है यदि आपका कंटेंट अच्छा है तो Guest Post वाले वेबसाइट उसको जल्दी Accept कर लेगा और आपको एक Quality Backlink मिल जायेगा।

7 – Uses of Social Media (सोशल मीडिया का प्रयोग)

दोस्तों सोशल मीडिया का प्रयोग दिन व दिन बढ़ता जा रहा है, Social Media एक Best प्लेटफार्म है जहाँ से आपके वेबसाइट को बहुत सारा Genuine Traffic मिल सकता है इसलिए सोशल वेब्सीटेस जैसे Facebook, Twitter, Pinterest, Tumblr, Reddit, Etc. सोशल Websites पर अपना वेबसाइट के नाम से अकाउंट बनाये और पोस्ट के माध्यम से अपने वेबसाइट का लिंक सबमिट करे, दोस्तों एक बात याद रखे एक दिन में 30 से ज्यादा सोशल Websites पर पोस्ट न करे।

8 – Profile Creations (प्रोफ़ाइल क्रिएशन)

दोस्तों प्रोफाइल क्रिएशन्स का एक भी अलग ही महत्व है बैकलिंक्स के लिए, प्रोफाइल क्रिएशन्स में आपको अलग अलग Websites पर जाके प्रोफाइल क्रिएट करना पड़ता है जहाँ से आपको एक क्वालिटी लिंक मिलता है।

इसके अलावा PDF Submissions, Image Submissions, Blogs Submission और Business Listing के माध्यम से भी हम क्वालिटी बैकलिंक्स बना सकते है। ये थे कुछ SEO से Related वो जानकारी जिन्हे करके आपको अपने वेबसाइट की रैंकिंग में बहुत फायदा मिलेगा, आशा करता हूँ आप लोगो को ये पोस्ट पसंद आया होगा, यदि आप किसी भी प्रकार की SEO से सम्बंधित जानकारी चाहते है तो, कमेंट में अपना Question लिखे, आपको जल्द ही Answer मिल जायेगा, धन्यवाद (Thank You)।

जय हिन्द । जय भारत

What is SEO in Hindi | SEO क्या है और यह इतना जरुरी क्यों है? – हिंदी में जाने

6 thoughts on “What is SEO in Hindi | SEO क्या है और यह इतना जरुरी क्यों है? – हिंदी में जाने

  1. 👌 Wow…..Its a Awesome Posts, I Get Here Very Important Knowledge About SEO, For New Beginners, Its a Unique Website, Thanks For this Details
    Thanks FAMOUS हिंदी…😍

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top